जब स्वतंत्रता और अखंडता खतरे में हो, तो पूरी शक्ति से उस चुनौती का मुकाबला करना ही एकमात्र कर्तव्य होता है - jab svatantrata aur akhandata bhram mein ho, to pooree shakti se us chunautee ka mukaabala karana hee ekamaatr karm hota hai. : लाल बहादुर शास्त्री

जब स्वतंत्रता और अखंडता खतरे में हो, तो पूरी शक्ति से उस चुनौती का मुकाबला करना ही एकमात्र कर्तव्य होता है। : Jab svatantrata aur akhandata bhram mein ho, to pooree shakti se us chunautee ka mukaabala karana hee ekamaatr karm hota hai. - लाल बहादुर शास्त्री

विज्ञान और वैज्ञानिक कार्यों में सफलता असीमित या बड़े संसाधनों का प्रावधान करने से नहीं मिलती बल्कि यह समस्याओं और उद्दश्यों को बुद्धिमानी और सतर्कता से चुनने से मिलती है और सबसे बढ़कर जो चीज चाहिए वो है निरंतर कठोर परिश्रम - vigyaan aur vaigyaanik kaaryon mein saphalata aseemit ya bade sansaadhanon ka praavadhaan karane se nahin milatee hai balki yah samasyaon aur uddashyon ko samajhee aur satarkata se chunane se milatee hai aur sabase badhakar jo cheej chaahie vah nirantar kathor parishram hai. : लाल बहादुर शास्त्री

विज्ञान और वैज्ञानिक कार्यों में सफलता असीमित या बड़े संसाधनों का प्रावधान करने से नहीं मिलती बल्कि यह समस्याओं और उद्दश्यों को बुद्धिमानी और सतर्कता से चुनने से मिलती है और सबसे बढ़कर जो चीज चाहिए वो है निरंतर कठोर परिश्रम। : Vigyaan aur vaigyaanik kaaryon mein saphalata aseemit ya bade sansaadhanon ka praavadhaan karane se nahin milatee hai balki yah samasyaon aur uddashyon ko samajhee aur satarkata se chunane se milatee hai aur sabase badhakar jo cheej chaahie vah nirantar kathor parishram hai. - लाल बहादुर शास्त्री

राष्ट्र धर्म – निरपेक्ष, कल्याण, स्वास्थ्य, संसार, विदेशी संबंधों, मुद्रा इत्यादि का ध्यान रखेगा। लेकिन मेरे या आपके धर्म का नहीं, वो सबका निजी मामला है - raashtr dharm - nirapeksh, kalyaan, svaasthy, sansaar, videshee sambandhon, mudra ityaadi ka dhyaan. lekin mere ya aapake dharm ka nahin, vah sabaka nijee maamala hai. : लाल बहादुर शास्त्री

राष्ट्र धर्म – निरपेक्ष, कल्याण, स्वास्थ्य, संसार, विदेशी संबंधों, मुद्रा इत्यादि का ध्यान रखेगा। लेकिन मेरे या आपके धर्म का नहीं, वो सबका निजी मामला है। : Raashtr dharm - nirapeksh, kalyaan, svaasthy, sansaar, videshee sambandhon, mudra ityaadi ka dhyaan. lekin mere ya aapake dharm ka nahin, vah sabaka nijee maamala hai. - लाल बहादुर शास्त्री

यदि मैं एक तानाशाह होता तो धर्म और राष्ट्र अलग – अलग होते। मैं धर्म के लिए जान तक दे दूंगा, लेकिन यह मेरा निजी मामला है राज्य का इससे कुछ लेना देना नहीं है - yadi main ek taanaashaah hota to dharm aur raashtr alag - alag hote. main dharm ke lie jaan tak de doonga, lekin yah mera nijee maamala hai. : लाल बहादुर शास्त्री

यदि मैं एक तानाशाह होता तो धर्म और राष्ट्र अलग – अलग होते। मैं धर्म के लिए जान तक दे दूंगा, लेकिन यह मेरा निजी मामला है राज्य का इससे कुछ लेना देना नहीं है। : Yadi main ek taanaashaah hota to dharm aur raashtr alag - alag hote. main dharm ke lie jaan tak de doonga, lekin yah mera nijee maamala hai. - लाल बहादुर शास्त्री

दोनों देशों की आम जनता की समस्याएं, आशाएं और आकांक्षाएं एक समान है। उन्हे लड़ाई – झगड़ा और गोला – बारूद नहीं , बल्कि रोटी, कपड़ा और मकान की आवश्यकता है - donon deshon kee aam janata kee samasyaen, aashaen aur aakaankshaen ek samaan hai. unhe ladaee - jhagada aur gola - baarood nahin, balki rotee, kapada aur makaan kee aavashyakata hai. : लाल बहादुर शास्त्री

दोनों देशों की आम जनता की समस्याएं, आशाएं और आकांक्षाएं एक समान है। उन्हे लड़ाई – झगड़ा और गोला – बारूद नहीं , बल्कि रोटी, कपड़ा और मकान की आवश्यकता है। : Donon deshon kee aam janata kee samasyaen, aashaen aur aakaankshaen ek samaan hai. unhe ladaee - jhagada aur gola - baarood nahin, balki rotee, kapada aur makaan kee aavashyakata hai. - लाल बहादुर शास्त्री

देश के प्रति निष्ठा सभी निष्ठाओं से पहले आती है और यह पूर्ण निष्ठा है क्योंकि इसमें कोई प्रतीक्षा नहीं कर सकता कि बदले में उसे क्या मिलता है - desh ke prati nishtha sabhee nishthaon se pahale aata hai aur yah poorn nishtha hai kyonki isamen koee prateeksha nahin kar sakatee ki badale mein use kya milata hai. : लाल बहादुर शास्त्री

देश के प्रति निष्ठा सभी निष्ठाओं से पहले आती है और यह पूर्ण निष्ठा है क्योंकि इसमें कोई प्रतीक्षा नहीं कर सकता कि बदले में उसे क्या मिलता है। : Desh ke prati nishtha sabhee nishthaon se pahale aata hai aur yah poorn nishtha hai kyonki isamen koee prateeksha nahin kar sakatee ki badale mein use kya milata hai. - लाल बहादुर शास्त्री

भ्रष्टाचार को पकड़ना बहुत कठिन काम है लेकिन मैं पूरे जोर के साथ कहता हूं कि यदि हम इस समस्या से गंभीरता और दृढ़ संकल्प के साथ नहीं निपटते हैं तो हम अपने कर्तव्यों का निर्वाह करने में असफल होंगे - bhrashtaachaar ko pakadana bahut kathin kaam hai lekin main poore jor ke saath kahata hoon ki agar ham is samasya se drdhata aur drdh sankalp ke saath nahin nipatate hain to ham apane slaavon ka nirvaah karane mein asaphal honge. : लाल बहादुर शास्त्री

भ्रष्टाचार को पकड़ना बहुत कठिन काम है लेकिन मैं पूरे जोर के साथ कहता हूं कि यदि हम इस समस्या से गंभीरता और दृढ़ संकल्प के साथ नहीं निपटते हैं तो हम अपने कर्तव्यों का निर्वाह करने में असफल होंगे। : Bhrashtaachaar ko pakadana bahut kathin kaam hai lekin main poore jor ke saath kahata hoon ki agar ham is samasya se drdhata aur drdh sankalp ke saath nahin nipatate hain to ham apane slaavon ka nirvaah karane mein asaphal honge. - लाल बहादुर शास्त्री